Webseries Review - Indori Ishq - MX Player


निर्देशक- समित कक्कड़

कास्ट- रित्विक साहोर, वेदिका भंडारी, आशय कुलकर्णी, मीरा जोशी, तिथि राज, डोना मुंशी और धीर हीरा


हर प्रेम कहानी एक हीरो व हीरोइन की कहानी होती है। दोनों का मिलना, बिछड़ना व उतार चढ़ाव प्रेम कहानी को पूरा करते हैं। लेकिन वो प्रेम कहानी जिसमें प्रेमिका प्रेमी को धोखा दे, ऐसी कहानी कम ही देखने को मिलती है। समित कक्कड़ द्वारा निर्देशित MX Original सीरीज “इंदौरी इश्क” छोटे शहर के लड़के की एक ऐसी ही कहानी है, जो मर्चेंट नेवी का बड़ा ऑफिसर बनने का सपना लेकर मायानगरी मुंबई पहुँचता है, लेकिन उसके बचपन के प्यार द्वारा धोखा दिए जाने पर उसकी पूरी जिंदगी बर्बादी की तरफ मुड़ चुकी होती है। 9 एपिसोड में बने इस ड्रामा में रित्विक साहोर और वेदिका भंडारी ने मुख्य भूमिकाएं निभाई हैं।

इंदौरी इश्क एक ऐसे लड़के की प्रेम कहानी है जो अपने बचपन के प्यार में पागल है। उसे अपने स्कूल के दिनों के प्यार पर बहुत गर्व है। स्कूल की पढ़ाई खत्म कर कुणाल आगे की पढ़ाई के लिए मुंबई आता है। उसकी लाइफ में सबकुछ अच्छा चल रहा होता है कि तभी उसे अपनी प्रेमिका तारा के बारे में पता चलता है। तारा कुणाल को किसी और लड़के के लिए छोड़ देती है। जिसके बाद कुणाल गम व मायूसी की दुनिया में डूब जाता है।


कुणाल का रोल कर रहे रित्विक साहोर ने यहाँ पूरा माहौल गमगीन बनाये रखा है, वो डीप डिप्रेशन में हैं। इससे पहले वो यूट्यूब के सितारे हैं और बहुत सारे सीरीज में अभिनय कर चुके हैं। वहीं इस सीरीज में तारा का किरदार निभाया है वेदिका भंडारी ने, जिनको देखना एक सुखद अनुभव है। वो प्यारी लगती हैं और रोल के कारण उनके प्रति नफरत भी बढ़ती है। इसके अलावा इस सीरीज में आशय कुलकर्णी, मीरा जोशी, तिथि राज, डोना मुंशी और धीर हीरा ने भी शानदार भूमिकाएं निभाई हैं। 

इंदौरी इश्क का म्यूजिक आपके दिल को सुकून पहुंचाने वाला है, इसमें अल्ताफ़ राजा के गाने भरे पड़े हैं। पहले एपिसोड का नाम ही 'तुम तो ठहरे परदेशी' है। डायलॉग व डायरेक्शन इस सीरीज में एक अलग जान फूंकते हैं तो वहीं कूल बनने की कोशिश में यहाँ खूब गाली भी भौंके गए हैं। आप इस कहानी से बहुत नहीं तो थोडा तो को-रिलेट करेंगे ही, दोस्ती, प्यार और धोखे की ये कहानी कई मायनों में काफी अलग है। यह सीरीज अब तक की सबसे अलग लव स्टोरी है, जिसमें लड़के और लड़की के लिए कमिटमेंट व वादे के अलग अलग नियमों को दिखाया गया है। ‘वो करे तो भूल जा, हम करें तो सजा’, कैसे महिला का धोखा देना एक सामान्य सी बात है लेकिन पुरुष का धोखा देना एक बड़ी बात बन जाती है। यही सोच और धारा 375 के दुरूपयोग को इस शो काफी हद तक इसी बात को सही दर्शाया है। ये वेबसीरीज वाले न अंतिम मिनट का मजा अपने अगले सीजन के लिए बचा के रख लेते हैं। खैर, आप इस इंदौरी इश्क को MX Player पर फ्री में देख सकते हैं।




Post a Comment

0 Comments